Sahara India Big News : सहारा निवेशकों के लिए बड़ी खुशखबरी, सरकार ने दिया बड़ा फैसला, जाने कब मिलेगा पैसा

Last updated on February 28th, 2024 at 04:02 pm

Sahara India Big News : सहारा निवेशकों के लिए बड़ी खुशखबरी, सरकार ने दिया बड़ा फैसला, जाने कब मिलेगा पैसा

Sahara India Latest News : देश में लाखो लाख मध्य वर्गीय परिवार और गरीब परिवार को सहारा इंडिया में निवेश कर रखा है और एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक लगभग 13 करोड़ निवेशको ने निवेश किया है इन सारी लोगों को पैसा इसमें अभी तक भाषा हुआ है वह अपने पैसे की वापसी के लिए लगातार अत्यंत प्रयास कर रहे हैं लेकिन उनको बार-बार उन्हें निराश हाथ लगती है सहारा इंडिया का कहना है कि वह निवेशकों को पैसा लौट आना चाहती है लेकिन मार्केट रेगुलेटर से भी ने पैसे अपने पास रख लिए हैं तो आइए जानते हैं इसके बारे में ।

सहारा इंडिया में निवेशकों को अरबों रुपये फंसे ?

राज्य सरकार के मुताबिक सहारा इंडिया में रियल स्टेट कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने 232.85 लाख निवेशकों से 19400.87 करोड़ रुपये और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड ने 75.14 लाख निवेशकों से 6380.50 करोड़ रुपये Showing किए थे लेकिन सेबी सहारा के निवेशकों का ब्याज सहित कुल 138.07 करो रुपए ही वापस कर पाया है साफ-साफ यह बात देखा जाए तो निवेश को अरबों रुपया अभी तक सहारा में फंसे हैं।

2014 मे निवेशकों ने किया था निवेश

इस बीच सहारा इंडिया के मालिक सुब्रत राय और सहारा इंडिया के 10 बड़े अधिकारियों के खिलाफ मेरठ के ग्राम पूरी थाने में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है उन सभी पर आरोप लगाया गया है कि 25 लाख 5,000 रूपये का निवेश किया गया था लेकिन समय पूरा होने के बाद भी पैसा लौटाया नहीं गया पुलिस को दी गई शिकायत में बताया गया कि राजेश्वरी गोयल ने 2014 ईस्वी में ही सहारा इंडिया में 25 लाख 5,000 रूपये का निवेश किया था।

सुब्रत राय निवेशकों का पैसा कैसे लौटएंगे ?

आपको बता दें कि बिहार सरकार की ओर से पेस वकीलों ने कहा कि उच्च न्यायालय ने सुब्रत राय को अभियुक्त नहीं बनाया है उन्हें योजना पेश करने को कहा है कि आखिरकार ओवर निवेशकों का पैसा कैसे लौट आएंगे और पीठ ने कहा कि हम केवल यह कह रहे हैं कि ऐसा 438 धारा के तहत नहीं किया जाना चाहिए था न्यायालय ने कहा कि याची कर्ताओं ने उच्च न्यायालय के अग्रिम जमानत का विरोध किया था और अदालत को केवल इन मामलों पर विचार करना चाहिए था कि किया जमानत मंजूर करने के लिए कोई प्रथम दृष्टया मामला बनता है या नहीं बनता है सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यदि इस तरह का आदेश सत्र अदालत की ओर से दिया जाता है तो उच्च न्यायालय उस सत्र न्यायाधीश को आड़े हाथों लेता और यहां तक कि उसे न्यायिक अकादमी में जाने की सलाह देता और एक बार आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने यह बात की बृहस्पतिवार को स्थगित कर दी गई थी। 

SEBI के पास जमा है निवेशकों का 25,000 करोड़

प‍िछले द‍िनों सहारा ने व‍िभ‍िन्‍न समाचार पत्रों में एक लेटर जारी करके कहा कि वह (सहारा) भी सेबी से पीड़ित है. हमसे दौड़ने के ल‍िए कहा जाता है लेक‍िन हमें बेड़ियों में जकड़कर रखा गया है। चिट्ठी के माध्यम से सहारा ने बताया क‍ि न‍िवेशकों का पैसा अब सेबी के पास है. सहारा (Sahara) ने सेबी (SEBI) पर निवेशकों के 25,000 करोड़ रुपये रखने की बात कही है। पहले भी सहारा की तरफ से यह जानकारी न‍िवेशकों को दी जा चुकी है।

सेबी (SEBI) ने हाल में सहारा ग्रुप की दो कंपनियों, सुब्रत रॉय और तीन अन्य लोगों पर 12 करोड़ रुपये का भारी भरकम जुर्माना लगाया था। इस मामले में सेबी अब तक 22 स्टेटस रिपोर्ट दायर कर चुका है। पिछले साल अक्टूबर में उसने सुप्रीम कोर्ट में इंटरलॉक्युटरी एप्लिकेशन दायर करके अदालत से डायरेक्शन मांगा था। 

झारखंड हाई कोर्ट की कार्रवाई

इसके पहले झारखंड हाईकोर्ट ने 85 एकड़ जमीन पर सहारा इंडिया के दावे को खारिज कर लिया गया है और इसके अलावा हाईकोर्ट ने इस मामले में ₹100000 का जुर्माना भी लगाया है झारखंड में सरकार ने 2019 में 11 एकड़ सहारा इंडिया की जमीन पर अस्पताल को दे दी थी। अदालत ने अस्पताल से कहा कि वह राज्य सरकार से दक्षिणी पूर्ति मांग सकते हैं पूरे मामले में हाईकोर्ट ने अपना फैसला पहले ही सुरक्षित रख लिया था इस मामले में सहारा इंडिया के निचले अदालत के आदेश के खिलाफ अपील की थी।

ये भी पढ़ें : 5G Internet : अपने शहर में पता करें 5G इंटरनेट चल रहा है, फटाफट चेक करे

सेबी (SEBI) ने हाल में सहारा ग्रुप की दो कंपनियों, सुब्रत रॉय और तीन अन्य लोगों पर 12 करोड़ रुपये का भारी भरकम जुर्माना लगाया था। इस मामले में सेबी अब तक 22 स्टेटस रिपोर्ट दायर कर चुका है। पिछले साल अक्टूबर में उसने सुप्रीम कोर्ट में इंटरलॉक्युटरी एप्लिकेशन दायर करके अदालत से डायरेक्शन मांगा था।

My Name is Uttam Kumar I have Graduated from Magadh University, Bodhgaya. Further studies are ongoing. I am the owner of Bsestudy.com You can contact me directly at @ramkumar6204164@gmail.com

Leave a Comment