अब खान बनाने के लिए, मंहगा सिलेंडर लेने की जरूरत नहीं, घर ले आइए ये सस्ता सोलर चूल्हा, जानिए पूरी जानकारी

अब खान बनाने के लिए, मंहगा सिलेंडर लेने की जरूरत नहीं, घर ले आइए ये सस्ता सोलर चूल्हा, जानिए पूरी जानकारी
New Delhi IOC Surya Nutan : देश में महंगाई दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है आप चाहे तो डीजल हो,या पेट्रोल ,एलपीजी गैस सिलेंडर की बात करें इन सभी की दाम बढ़े हुए हैं। इस हालत में आम आदमी का जीवन गुजारा करना काफी महंगा यानी मुश्किल साबित होता जा रहा है आज के समय में हर व्यक्ति को दो वक्त की रोटी जुटाने में लगा है और अब ऐसे में हर कोई को सोचना है कि उसे कम से कम एलपीजी गैस सिलेंडर तो सस्ता मिल सके यही समस्या को देखते हुए देश की सबसे बड़ी इंडियन कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन एक इसका समाधान लाई है कि इस कंपनी ने भारत में रिचार्ज होने वाला और घर के अंदर प्रयोग होने वाला सोलर चूल्हा पेश किया है। इस सोलर की मदद से आप तीन वक्त का खाना आप फ्री में ही बना सकते हैं आइए जानते हैं कि इस सोलर चूल्हा के बारे में विस्तार रूप से ।
आपको सबसे पहले यह बता दे कि देश की सबसे मशहूर ऑयल कंपनी इंडियन ऑइल कॉर्पोरेशन ने 22 जून 2022 को यानी देखा जाएगी बुधवार को इससे नए सोलर चूल्हे को लांच किया था। यह सोलर चूल्हे का खासियत है कि इस चूल्हे को रसोई घर में रखकर सौर ऊर्जा की मदद से खाना बनाने में इस्तेमाल लाया जा सकता है। यह सोलर चूल्हा घर के बाहर लगे सोलर पैनल से अपनी एनर्जी को कंज्यूम कर सकता है जिसके बाद यह चार्ज होकर पूरी तरह से खाना बनाने के लिए तैयार हो जाएगा।
यह सोलर चूल्हे की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसे आप रात में भी इस्तेमाल कर सकते हैं यानी कि आप इस अंधेरे में भी खाना बनाने में उपयोग कर सकते हैं और इसके अलावा इस चूल्हे को खरीदने और इसकी मेंटेनेंस के अलावा इसमें आपको कोई भी एक्स्ट्रा पैसे खर्च नहीं होने वाला है। आपको जानकारी के लिए यह बता दें कि बुधवार को पेट्रोलियम मिनिस्टर हरदीप सिंह के ऑफिशियल रेजिडेंस पर हो रहे एक कार्यक्रम के दौरान यश और चूहे का लांच किया गया।

सौर चूल्हा की कीमत क्या है?

उन्होंने बताया कि इस समय एक गैस चूल्हे की कीमत ₹18000 से ₹30000 की क्रीम आती है लेकिन पैमाने की हालत देखते हुए 2-3 लाख यूनिट का उपादान किया जाता हैं। और कुछ सरकारी सहायता मिलती हैं, तो कॉस्ट ₹10000 से ₹12000 प्रति यूनिट तक कम हो सकती है। बिना रखरखाव के चूल्हे की लाइफ 10 साल है इसमें एक के ट्रेडिशनल बैटरी नहीं है जिसे बदलने की आवश्यकता है साथ ही सोलर पैनल की लाइफ 20 साल होती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.