उसने कहा था – चंद्रधर शर्मा गुलेरी || Usne Kaha Tha Subjective Question Answer

उसने कहा था कहानी के प्रमुख पात्र कौन है

Usne Kaha Tha ,Usne Kaha Tha Subjective Question And Answer ,Class 12th Hindi Usne Kaha Tha Subjective Question,Usne kaha tha subjective question Answer ,usne kaha tha question answer,usne kaha tha chandradhar sharma guleri subjective question,usne Kaha Tha subjective chapter 2,

उसने कहा था’ कहानी के प्रश्न उत्तर

Q.चंद्रधर शर्मा गुलेरी जी का जन्म कब हुआ था ?

Ans. चंद्रधर शर्मा गुलेरी जी का जन्म 7 जुलाई 1883 हुआ था |

Q. चंद्रधर शर्मा गुलेरी जी का मृत्यु (निधन) कब हुआ था ?

Ans. चंद्रधर चंद्र शर्मा गुलेरी जी का निधन 12 सितंबर 1922 

Q. चंद्रधर शर्मा गुलेरी जी का मूल निवास स्थान कहां है ?

 Ans. चंद्रधर शर्मा गुलेरी जी का निवास स्थान गुलेर नामक ग्राम जिला कांगड़ा हिमाचल प्रदेश

Q. चंद्रधर शर्मा गुलेरी जी का पिता का क्या नाम है ?

Ans. चंद्रधर शर्मा गुलेरी जी का पिता का नाम पंडित शिवराम था |

Q. उसने कहा था कहानी कितने भाग में बटी है ? 

Ans. उसने कहा था कहानी 5 भाग में बटी हुई है ?

Q. उसने कहा था कहानी कितने भाग में युद्ध का वर्णन है ?

Ans. उसने कहा था कहानी दो भागों में युद्ध का वर्णन है |

Q. उसने कहा था कहानी पहली बार कब प्रकाशित हुई थी ?

Ans. उसने कहा था कहानी 1915 में प्रकाशित हुई थी |


Q 1. उसने कहा था कहानी के पात्रों की एक सूची तैयार करें ?

Ans. लहना सिंह ,बोधा सिंह ,वजीरा सिंह ,सुवेदार हजारा सिंह ,सूबेदारिणी लपटन साहब ,इत्यादि |

Q 2. सूबेदार और उसका बेटा लड़ाई लड़ने क्यों गए थे  ?

Ans. सूबेदार को अंग्रेज सरकार से बहादुरी का किताब और जमीन जायदाद मिली थी उन्हें इसके बदले में अपनी वफादारी निभानी थी इसलिए हुए लड़ाई पर गए थे | 

Q 3. उसने कहा था कहानी में किसने किससे क्या कहा  ?

Ans.उसने कहा था कहानी में सूबेदारनी ने लहना से से कहा था कि जिस तरह बचपन में उसने एक बार घोड़ों की लातो से थी उसकी रक्षा की थी |उसी प्रकार वह लड़ाई में उसके पति और एकमात्र पुत्र कि वह रक्षा करें वह उसके आगे अपना आंचल फैला कर भीख मांगती है यह बात लहना सिंह के हिर्दय को छू जाती है |

Q 4. उसने कहा था कहानी के आधार पर सूबेदार हजारा सिंह का चरित्र चित्रण करें |

Ans. सूबेदार हजारा सिंह सूबेदारनी का पति है |सरकार से उसे बहादुरी का इनाम और जमीन जायदाद मिल चुकी है |हजारा सिंह अपने बेटे बोधा सिंह को लहना सिंह के भरोसे छोड़ा जाता है |साथ ही वह लहना सिंह के सुख-दुख की भी चिंता करता है और उसे अपनी सेहत का ख्याल रखने को भी कहता है |हालांकि कहानी का इस घटना पर कोई प्रकाश नहीं पड़ता क्योंकि कहानी का मूल संवेदना से इसका सीधा संबंध नहीं है लेकिन कहानी के अंत में लहना सिंह की मौत का जिस रूप में उल्लेख होता है उससे यह साफ हो जाता है की सूबेदार  हजारा सिंह ने लहना सिंह का सम्मान नहीं किया |


Q 5. लहना सिंह का परिचय अपने शब्दों में दें |

Ans. लहना सिंह ब्रिटिश सेना का सीख जमादार था | वह भारत से दूर फ्रांस में जर्मनी के खिलाफ युद्ध करने के लिए भेजा गया था |वह एक कृत निष्ठ सैनिक था |अपने प्राणों की परवाह किए बिना वह युद्धभूमि के खंडको में रात दिन पूरे मन के साथ काम करता है |

उसके जीवन का एक दूसरा पहलू भी है ,उसकी मानवीय संवेदना वचनबद्धता तथा प्रेम अपनी किशोरावस्था में एक बालिका से बहुत प्रेम करता था |बाद में वह सेना में भर्ती हो गया तो उसे पता लगा कि बालिका अब सूबेदार की पत्नी है और उससे बच्चन लेती है कि वह युद्ध में उसकी पति और एकमात्र पुत्र की रक्षा करें जिसका पालन लहना सिंह अपने प्राण देकर करता है |

Q 6. लहना सिंह के प्रेम के बारे में बताएं

Ans. लहना सिंह अपने किशोरावस्था में अनजान लड़की के प्रति आकर्षित हुआ था लेकिन वह उससे शादी नहीं कर सका ,बाद में उस लड़की की शादी सेना में काम कर रहे एक सूबेदार से हो गया |लहना सिंह भी सेना में भर्ती हो गया |अचानक कई वर्षों बाद उसे पता चला कि सूबेदारिनी ही वह लड़की है जिससे उससे कभी प्रेम किया था |सूबेदारिनी उससे निवेदन करती है वह उसके पति एवं एकमात्र पुत्र सेना में भर्ती है |बोधा सिंह की रक्षा करेगा लहना ने अपने प्राण देकर इस बचन को निभाया था ,वही उसका वास्तविक प्रेम था |

Q 7. उसने कहा था कहानी का केंद्रीय भाव क्या है 

Ans.उसने कहा था प्रथम विश्व युद्ध की पृष्ठभूमि में लिखी हुई कहानी है |यह एक अर्थ में युद्ध विरोधी कहानी है क्योंकि लहना सिंह के बलिदान व्यर्थ हो जाता है और लहना सिंह के बलिदान का उचित सम्मान किया जाता था और यह ना सीखा करुण युद्ध में हो जाता है |लहना सिंह का कोई भी सपना पूरा नहीं हो पाता है |उसने कहा था’ कहानी के प्रश्न उत्तर 

Usne kaha tha subjective

usne kaha tha subjective chapter 2,उसने कहा था’ कहानी के प्रश्न उत्तर pdf,class 12th hindi usne kaha tha subjective ,इस इमेज पर क्लिक करके बातचीत का Subjective Question Answer पढ़ सकते हैं 

usne kaha tha subjective

12th usne kaha tha subjective question

Usne Kaha Tha ,Usne Kaha Tha Subjective Question And Answer ,Class 12th Hindi Usne Kaha Tha Subjective Question,Usne kaha tha subjective question Answer ,usne kaha tha question answer,usne kaha tha chandradhar sharma guleri subjective question,usne Kaha Tha subjective chapter 2,

Leave a Comment

Your email address will not be published.